उलझन !मेरे दिल की ....

उलझन !.मेरे दिल की ....दिल की लड़ाई अब भी दिमाग से है !

91 Posts

290 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 12147 postid : 577763

बिल्ली के भग्या का छीका ..........प्रधानमंत्री पद !

Posted On: 22 Jan, 2014 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

गाँधी खानदान के अलावा मनमोहन जी अकेले आदमी है जो उनकी सहमति से ही इतने दिन तक प्रधानमंत्री पद का सुख भोग पाए है |
पर अभी उनकी पद महत्वकांसा ख़त्म नही हुई थी पर मज़बूरी में न बोलना पड़ा | कांग्रेस की असमंजस स्थिति ,और देश की राजनितिक दशा देखते हुए वे एस उम्र मे भी अभी एक पारी और खेलने की इच्छा रखते है |
एस लिए वो और उनकी खास सलाहकार मडली अपनी सम्पूर्ण शक्ति सरकार को चमकाने मे लगा देंगी |नयी योजनाये नयी घोषणाये होंगी | जनता को बहलाने के लिए सारे दाव खेले जायेंगे पर उनकी समस्या मोदी या विपक्ष नही कांग्रेस आलाकमान ही है, जो एक हद्द से जाएदा ,
उनको शक्ति केंद्र बनने नही देंगी |और अगला चुनाव उनके नाम पर कोई लड़ना नही चाहता |पर बिल्ली के भाग्या से कब कोन सा छीका टूट जाये किसको पता ????

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran